Tuesday, May 25, 2010

कलयुग में शेषनाग

भारतीय संस्‍कृति में नागों की पूजा का विशेष महत्‍व है और इसी के तहत भारतीय पौराणिक कथाओं में क्षीरसागर में विष्‍णुशैय्‍या के रूप में शेषनाग का जिक्र आता है परंतु कलयुग में शेषनाग का दर्शन हो तो यह आश्‍चर्य का विषय है। कर्नाटक के मेंगलुर के पास कुक्‍के सुब्रमण्‍यम में पांच फनों वाले नाग के मिलने के बाद उसे देखने वाले श्रद्र्धालुओं का तांता लग गया। आइये करते है कलयुग में शेषनाग के दर्शन







2 comments:

  1. उम्दा जानकारी आधारित पोस्ट / आपकी यह पोस्ट ब्लॉग जगत का मोती है / सही मायने में ब्लॉग की सार्थकता यही है / शेष नाग के पवित्र दर्शन करवाने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद /

    ReplyDelete